Web Hosting Kya Hai | Hosting खरीदने से पहले इन 7 बातो का अवश्य ध्यान रखे

अगर आप भी अपनी वेबसाइट बनाने का सोच रहे हैं. तो ये एक बहुत ही अच्छा आइडिया हैं। क्यूँकि अभी digital marketing का अच्छा दौर चल रहा है. और इसका आगे बहुत अच्छा भविष्य है. 

अगर आप अभी से ही Website बनाना और उसे चलाना सीख जाते हैं. तो आगे आने वाले समय में आप बहुत अच्छा पैसा कमा पाएंगे.

Website बनाने के लिए बहुत सारी चीजों पर ध्यान देना पड़ता है. जैसे की website create, manage करना, website सिक्योरिटी, wordpress, website design करना

लेकिन इन सब की शुरुआत के लिए जो सबसे ज्यादा जरुरी है वो है एक बढ़िया web hosting का होना. 

जैसे अगर आप कोई अपना business चलाते हो तो आप अपना एक general store बनाते हो, और आप को general shop का सामान रखने के लिए एक दुकान, या एक अच्छा space चाहिए होता है. 

तो उसके लिए आप एक दुकान किराये पर लेते हो उन्हें हर महीने उस दुकान का किराया देते हो. 

लेकिन सब कुछ डिजिटल होने की वजह से कुछ लोग अब दुकान किराये पर खरीदना पसंद नही करते है. तो वे सबसे पहले अपने business के लिए online product store बनाते है.

तो वे ऑनलाइन स्टोर बनाने के लिए वे website बनाते तो उसके लिए आप को एक server किराया पर लेना होता है. जिसे technical भाषा में hosting या web hosting कहते है. 

दोस्तों इस आर्टिकल में web hosting से संबंधित आपके सारे डाउट क्लियर हो जाएंगे जैसे की web hosting meaning in hindi, types of hosting, होस्टिंग कैसे काम करती है, hosting buy करते समय किन बातो का ध्यान रखना चाहिए. और आपके लिए कोनसी web hosting buy करना बेस्ट रहेगी. 

Contents hide

web Hosting kya hai ( वेब होस्टिंग क्या है )

वेब होस्टिंग क्या है

web hosting एक ऐसी service होती है. जो किसी एक अकेले person को या फिर एक बड़ी ऑर्गेनाइजेशन या एक बड़ी company की अपनी website या अपने web page को internet पर दिखाती है।

हमारी website एक server के ऊपर होती है. उस server पे हमारे website का सारा डाटा होतो है. 

और जब कोई भी internet user आपके website का नाम जिसे domain कहा जाता है. वो सर्च करता है. तो वो आपके website page पर पहुच जाता है. जो की आपके website का data जो की hosting server में पड़ा होता है.

वेब होस्टिंग कैसे काम केसे करती हैं?

जब आप अपनी website या blog बनाते हैं. और website और blog बनाने के बाद आप उसपे content डालते हैं ताकि लोग उनको पढ़ें और फिर उस website से आप कमाई कर सकते है ।

आप जो content अपने blog पर डालने के लिए बनाते हो और उस content की जो file होती हैं. वो file web hosting इन्टरनेट पर स्टोर करके रखती है।

जब भी कोई user उनके browser में (Google,chrome, Firefox) मैं आपका domain name search करता है.

वैसे ही internet के user को उस web hosting के server से connect कर देता है. 

जहाँ पे आपके content की file होती हैं. और उसके बाद user आपके content को देख सकता है. और उसे share भी कर सकता है।

अब आप समझ गए होंगे की web hosting कैसे काम करती है? अब web hosting में भी बहुत से प्रकार होते है. 

Types of web hosting (Web Hosting के प्रकार )

web hosting ke सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले 6  प्रकार होते हैं.  और हम आज आपको इन के बारे में detail में बताएंगे.

दोस्तों हर काम के लिए अलग अलग प्रकार की web hosting होती हैं। तो हम आपको उन 6 web hosting के बारे में detail में बताएंगे तो फिर आप आपके वर्क के हिसाब से जिस web hosting की जरूरत हो उस web hosting को खरीद सकते है. 

  • Shared web hosting
  • VPS web hosting
  • Dedicated web hosting
  • Cloud web hosting
  • Reseller web hosting
  • Managed wordpress web hosting 

1. Shared web hosting (शेयर्ड वेब होस्टिंग क्या है)

जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है, इस प्रकार के होस्टिंग मैं कई सारे वेबसाइट एक ही सरवर का उपयोग कर रहे होते हैं. यानी इसमें एक बड़े server को कई सारे हिस्सो में बाटकर अलग अलग account create किये जाते है.

और इन अलग अलग account में websites होती है. यानी की एक साथ कई सारे वेबसाइट मिलकर एक ही सरवर के स्पेस का यूज़ करती है. 

इसलिए यह hosting काफी सस्ता है. और दूसरे hosting types से भी shared web hosting काफी सस्ती होता है,

किसी भी standard wordpress blog या फिर static website के लिए एक shared hosting package ही काफी है. और यह आपको बजट में मिल जाएगा.

Shared hosting ख़ास उन लोगो के लिए सबसे बेहतर है. जिन का बिजनेस छोटा या अपने बिजनेस की शुरुआत कर रहे हैं. 

Shared hosting इस तरह के बिजनेस के लिए बहुत बेहतर होती है. 

और जो अपना new blog setup कर रहे हैं. उनके लिए भी shared hosting से ही शुरुआत करना सस्ता व अच्छा रहता है. 

शेयर्ड होस्टिंग में website host करना बहुत आसान होता है. इसमें कई सारे softaculous software को आप cpanel से बड़ी आसानी से इंस्टॉल कर सकते हैं. और अपनी website setup कर सकते हो. 

Price- ₹150-1000/month के बिच आपको shared hosting मिल जाती है. 

2.VPS (virtual private server) web hosting (वर्चुअल वेब होस्टिंग क्या है)

VPS यानी Virtual Private Server और इसे कही जगह पर आपको Virtual Dedicated Server भी देखने को मिल सकता है. जैसा कि नाम से पता चल रहा है. 

कि इसमें virtual जुड़ा हुआ है. यानी यहां पर किसी फिजिकल या वास्तविक server की बात नहीं हो रही है बल्कि यहां पर किसी ऐसी चीज की बात हो रही है जिसमें Virtually बनाया गया हो. यानी कोई physical machine नहीं है. 

यहां पर एक server को अलग-अलग कई सारे Virtual server में बांट दिया जाता है. और एक user के लिए एक virtual server दिया जाता है. और उसपर सिर्फ उसी का अधिकार होता है

VPS एक नयी technology है, और आने वाले समय में यह काफी अच्छा कर सकती है. क्योंकि यह एक Physical Server बनाने से काफी सस्ती होती है. और इसे हम अपनी जरूरत के अनुसार इस्तेमाल कर सकते हैं.

एक server में एक से ज्यादा VPS होते हैं और हर VPS में अपना खुद का अलग operating system और इसी वजह से हर VPS owner को अपने VPS का लगभग पूरा Control मिलता है। और ये पूरा private होता है वो भी सिर्फ आपकी साइट के लिए होता है. 

लेकिन shared hosting के मुकाबले यह महंगा होता है.

Price- ₹500-3,000/month के बिच आपको मिल जाती है. 

3. Dedicated hosting (डेडीकेटेड होस्टिंग क्या है)

Dedicated web hosting एक ऐसी होस्टिंग होती है.

जहां पर आपको एक पूरा server दिया जाता है. इसका मतलब यह हुआ कि वह server में किसी अन्य website ना होकर केवल आपकी website host होती है. 

Dedicated Hosting मैं एक प्रकार से आप ही इस server के मालिक होते हो तो आप server को अपने हिसाब से सेट कर सकते हो.

आप server पर रिसोर्सेज को बड़ा और घटा भी सकते हो डेडिकेटेड होस्टिंग मैं आपको server पर पूरा कंट्रोल मिलता है, 

Dedicated hosting ज्यादातर वह लोग खरीदते है जिनके website पर बहुत high traffic आता है. 

Shared hosting के मुकाबले dedicated hosting 30 गुणा ट्रैफिक को हैंडल कर सकता है. 

तो जब आपके blog या website पर इतना ज्यादा traffic आने लग जाए तब आप dedicated hosting की तरफ आप जा सकते है. क्योंकि इस प्रकार की hosting को सबसे महंगी प्रकार की web hosting में लिया जाता है.

Price- ₹6,000-15,000/month के बिच आपको मिल जाती है. 

4. Cloud web hosting (क्लाउड वेब होस्टिंग क्या है)

Cloud hosting में आपका hosting provider आपको बहुत बढ़िया security तो प्रदान करता ही है. जो कि आपको दूसरी टाइप की web hosting में देखने को नही मिलती है, 

इसके साथ ही आपका डाटा भी सुरक्षित रहता है. क्योंकि आपकी वेबसाइट की सभी फाइल कई सारे server में load रहती है.

तो अगर एक सर्वर में प्रॉब्लम या server down भी हो जाता है. तो आपकी वेबसाइट की फाइल automatically दूसरे server से recover हो जाती है.  

यानी आपके user को कभी भी तकलीफ नहीं होने वाली 

आपके website पर जब कोई user आएगा तब आपकी साइट live ही मिलेगी. तो इसमें कितने भी user आये आपके site कभी भी down नहीं होगी. 

बहुत से प्रोब्लॉगर cloud hosting का ही इस्तेमाल करना पसंद करते है. और इसका चलन बढ़ता ही जा रहा है.

क्लाउड होस्टिंग पर आपकी साइट पर high volume traffic इसकी loading speed को प्रभावित नहीं करता है.

क्लाउड होस्टिंग में हम अपने डाटा को तब ही excess कर सकते हैं जब इंटरनेट उपलब्ध हो आसान शब्दों में कहूं तो cloud hosting पूरी तरह से internet पर निर्भर होती है. 

Price- ₹1000-10,000/month के बिच आपको cloud hosting खरीद सकते हो. 

5. Reseller hosting (रिसेलर होस्टिंग क्या है)

Reseller नाम से ही पता चल रहा है reseller यानी की इसे आप फिर से बेच सकते हो. 

दोस्तों आपने बहुत सी hosting website ऐसी भी देखी जिसमे आपको 20rs या 50rs/ month में आपको hosting देने के लिए तैयार होते है. 

ये लोग reseller hosting खरीदकर अपना business start करते है. ना तो उन hosting company का कही पर नाम होता है. ना ही उनकी hosting support इतना अच्छा होता है, 

ये लोग ज्यादातर reseller hosting खरीदकर एक server को बहुत से टुकड़ो में बाटकर वो सस्ते में बेचते है. और इसकी वजह hosting का uptime, loading speed बहुत ही ख़राब होता है. 

क्योकि कम पैसा चार्ज करके यह server capacity से ज्यादा website को host कर देते है. जिससे सारे user को प्रॉब्लम आती है. 

दोस्तों में भी ऐसे ही जब अपनी पहली hosting से अपनी एक साइट बनाई थी. तब मुझे hosting का इतना ज्ञान नही था. 

तो मैंने भी ऐसी ही किसी website से hosting purchase कर ली 30rs/month की और उसकी वजह से मुझे बहुत दिकत आती थी. 

मेरी website हमेशा down रहती थी. और उनको contact करने पर भी वो सही से मेरी problem को ना तो समझते थे. और ना ही solve करते थे. और एक दिन मेरी पूरी site ही crashed हो गयी और उस site का backup भी नही ले रखा था. 

तब से लेकर आज तक मैंने कभी भी जो बेकार या third party hosting site से कभी भी hosting को purchased नहीं किया. 

मैंन अब तक 3-4 web hosting इस्तेमाल कर रखी है. जैसे की सबसे पहले clickhindi को मैंने godaddy में host किया उनका मुझे support बहुत अच्छा लगा, अभी यह  साइट hostgator पर live है, और कुछ मेरी साइट hostinger में है. और आगे में आपको यह भी बताऊंगा की आपको कोनसी web hosting buy करनी चाहिए. 

आप reseller hosting का इस्तेमाल सही तरीके से भी क्र सकते है. अगर आपके पास बहुद ज्यादा website है. या फिर अगर आप एक website developer agency है. 

और आपको अपने clients के लिए 3-4 पेज की website चाहिए होती है. तो reseller की मदद से आप बहुत सारे clients के लिए website बनाकर host कर सकते है वो भी कम रुपयो में और यह reseller hosting package ऐसी agency के लिए best रहता है. 

Price- ₹500-8,000/month के बिच आपको मिल जाती है. 

Managed wordpress hosting (वर्डप्रेस होस्टिंग क्या है)

दोस्तों जैसे की जब भी हम दूसरे types की hosting लेते है. तब हमें बहुत सारे software मिल जाते है. लेकिन जिसको सिर्फ wordpress software का ही इस्तेमाल करता है. 

सिर्फ wordpress site बनाने के लिए आप wordpress hosting के लिए जा सकते है.

इसमें आपको अच्छी website performance मिल जाता है. High website loading speed, automatic plugin updates, website backups ये सब कुछ आपको सब इस pack में मिल जाता है. 

Managed wordpress hosting आपको shared hosting से हलकी महंगी मिलेगी अगर Price देखे तो – ₹250-2000/month के बिच आपको यह होस्टिंग मिल जाएगी. 

लेकिन आपको हलकी सी limitation देखने को मिलती है.

wordpress managed hosting में cpanel आपको नहीं मिलेगा. इससे आप database को access नहीं कर पाएंगे, और ना ही दूसरे web tools जिसे softaculous कहा जाता है. यह भी इस्तेमाल नहीं कर पायंगे. 

Softaculous क्या होता है?

Softaculous software एक web application service है. जो की web hosting control panel जैसे की cpanel में मिल जाता है, जिसमें आप अपनी hosting को control कर सकते हो. 

और सबसे खास बात यह है की इसमें आपको 419 scripts या जिसे web application कहते है. वो आपको मिल जाती है. 

और इन web application की मदद से आप इन category में कुछ भी बना सकते हो जैसे की 

Blogs

Micro blogs

Portals

Forum site

Image galleries

Wikis

Social networking

Gaming 

E-Commerce 

अगर आपको सिर्फ ब्लॉग बनाना है तो इसमें भी आपको blogs section में बहुत से tools मिल जाते है जैसे की 

WordPress 

Pubvana

Seredipity

Nibbleblog

Sitepad 

ऐसे बहुत से tools है. जिनसे आप अपनी website create कर सकते हो. 

लेकिन आपको जिस proper tools की knowledge है. आप उस tools को ही इस्तेमाल करे. 

जैसे की मुझे wordpress की अच्छी नॉलेज है. और यह बहुत ही आसान tool है किसी भी तरह की website बनाने के लिए. 

और में किसी भी तरह की site को बनाने के लिये wordpress tool को ही cpanel से install करता हु. और इसमें बिलकुल भी coding का ज्ञान नहीं चाहिए होता है. 

लेकिन आप अगर coding background से आते हो तो softaculous की मदद से बहुत से tools इस्तेमाल कर सकते हो.  

जिस भी tools का proper knowledge है. जैसे कुछ popular softaculous tools जो हर लोग इस्तेमाल करते है जैसे की wordpress, joomla, prestashop, abantecart, mybb etc.

और WordPress hosting को छोड़कर यह software आपको सारे hostings में मिल जाते है. और यह सारे software बिलकुल free में आपको मिल जायेंगे अगर आप hosting खरीदते हो. 

क्योकि इन tools को एक live server चाहिए होता है, install करने के लिए बिना server के इनको install नहीं किया जा सकता है.

तो उसके लिए जरुरी है की एक बढ़िया hosting को खरीदना ताकि आपके मनपसन्द tools का इस्तेमाल करके आप अपनी website को बना सकते हो. 

Web hosting buy करने से पहले इन बातो का ध्यान अवश्य रखे. 

hosting ख़रीदने के लिए बहुत सारी अलग अलग कंपनियां है. जहाँ से आप hosting ख़रीद सकते हो। 

लेकिन hosting ख़रीदने से पहले कुछ ऐसी चीजें हैं. जिसे जरूर आपको ध्यान में रखनी चाहिए. 

अगर आप उन चीज़ों को ध्यान में नहीं रखते हो और ऐसे ही आँख बंद करके hosting खरीद लेते हो तो बाद में आपको पछताना पड़ सकता है. 

क्योंकि जरूरी नहीं कि हर hosting अच्छी हो.

अगर हम चाहते हैं कि हमारे  blog content पे Google से ज़्यादा user आपकी साइट पर आए और आपका server भी हर समय सही से काम करे तो उसके लिए हमें अच्छी hosting लेनी ही पड़ेगी।

हम आपको बताएंगे कि आपको hosting लेने से पहले किन किन चीज़ों का ध्यान  रखना है. जिसकी मदद से आप एक अच्छे hosting ख़रीद सकते हो।

1. Disk space (डिस्क स्पेस क्या है)

disk Space यह hosting की storage capacity होती है. जैसे आपका computer में hard disc होती है. 1TB, 2TB या 500 GB वैसे ही hosting ke अंदर भी storage capacity होती है।

जिसमें आप अपनी फाइल्स को store कर सकते हैं. तो आपको देखना होगा कि आपको कितनी storage capacity की Need है, उस हिसाब से आपको उतने disc space वाली web hosting खरीदनी चाहिए।

उदहारण जैसे अगर आपका online store यानी E-commerce का बिज़नेस है तो आपको ज्यादा disc space चाहिए होता है. क्योकि इन साइट पर बहुत सारे web pages होते है. 

लेकिन अगर आप static business site बनाते हो जिसमे सिर्फ 4-5 page होते है तो कम disc space भी चल जाएगी. 

तो उससे आपको disc space का एक idea मिला होगा. 

जो भी hosting आप ले उसमे ध्यान रखे की minimum 10GB की Disc Space जरूर हो. 

2. Bandwidth (बैंडविथ क्या है)

एक second में आपकी website पर कितना data access किया जा सकता है उसे bandwidth कहते हैं. 

जब आपकी website पर कोई user आता है. तब आपकी वेबसाइट का web hosting server उस user को कुछ data share कर रहा होता है।

जैसे मान लो आपकी website पे एक second में 10 MB का data access किया जा सकता है. और अगर आपकी website पर कोई भी user आता है. तब आपकी website का server उस user को एक 10MB का data share करता है 

तो अगर आपकी website पर 10 user एक साथ access करते हैं तो आपकी website उने 10 MB का data share करेगी अगर उन दस user के बाद कोई 11th user आपकी website पे access करेगा तो आपका server Response देना बंद हो जाएगा। 

तो अगर ऐसा नहीं हो आपके साथ तो जरुरी है की 

आपको hosting खरीदते वक़्त bandwidth का ध्यान रखना चाहिए. ताकि अगर आप की website पर ज्यादा user आए तो आपकी website का server down ना हो। 

इसलिए minimum bandwidth 100gb तो होनी ही चाहिए. और अगर आपको कम price में unlimited bandwidth मिल रही है तो उसके साथ भी जा सकते है. 

3. Uptime

आप की website जितने time online रहती है. उसे uptime कहते हैं। 

और अगर आपकी website offline हो जाती है. तो उसे website server को down time कहते हैं।

तो आपको hosting लेते वक्त ये भी देखना है कि वो hosting Provider कितने समय का uptime देते हैं. 

क्योंकि अगर आपको Google में rank करना है. तो आपको ज़्यादा से ज़्यादा समय का uptime बहुत ही ज़रूरी है।

वैसे तो अभी कि सारे hosting provider company 99% का uptime की guarantee देती है।

4. Backup 

अगर आपको hosting में backup करने की सुविधा मिल रहा है. तो यह एक बहुत अच्छी बात हो सकती है. क्योकि ना जाने आपको site backup कब काम आ जाए. 

मानलो अगर कभी गलती से आपसे अपनी website server से ही delete हो जाए, या फिर server में कुछ प्रॉब्लम आ जाये, तो उसके लिए सबसे बढ़िया यह है.

की आपका hosting provider आपको backup का ऑप्शन दे. लेकिन बहुत से hosting provider आपकी website backup का एक्स्ट्रा पैसा चार्ज करते है. 

तब अगर आप अगर beginner blogger है. और एक्स्ट्रा पैसा नहीं देना चाहते है. 

तो आपको wordpress plugin से भी आपकी website हर सप्ताह automatic backup हो जाती है, आपके google drive में तो आप updraft wordpress plugin इनस्टॉल कर ले. जिससे आपकी साइट का हमेशा backup आपके computer में पढ़ा रहेगा.  

लेकिन अगर आप hostinger की hosting खरीदते हो तो आपको website backup की सुविधा मिलती है. जिसमे हर सप्ताह आपकी साइट automatic backup होता है. 

5. Professional Email Account

अगर आपका खुद का एक business है. तो खुद का एक domain नाम से ही Professional Email होना आपके business के लिए एक बहुत अच्छी बात है. 

इसलिए आप ये भी देखे की क्या आपका hosting provider आपको business email दे रहा है. 

जैसे आपके domain का नाम है. meradomain.com तो इससे आप अपना business email बना सकते है. जैसे की contact@meradomain.com ,career@meradomain.com तो इससे आपके business का अच्छा impression जाता है. 

इस बात का अवश्य ध्यान रखे की आपका hosting provider कम से कम एक email account जरूर provide कराये. 

6. SSL certificate 

SSL certificate ( secure sockets layer ) को कभी भी नही भूलना चाहिए ये एक अहम हिस्सा होता है. 

आपके website को secure करने के लिए साथ में आपको user को भी आपके साइट पर secure feel कराने के लिए, और अगर आप google के नजरो में भी अगर जिस site पर ssl नहीं होता है. उस site को rank कराती है.

वैसे तो आप Free में अपनी Site के लिए SSL certificate आप cloudflare site से ले सकते है.

लेकिन अगर आपका hosting provider आपको free में ssl दे रहा है तो यह बहुत ही सही deal हो सकती है. 

7. Customer service 

अब बात करते हैं  customer service के बारे में तो दोस्तों hosting लेते वक़्त आपको ये भी देखना है कि कौन सी hosting अच्छा customer service प्रोवाइड कराती हैं।

क्योंकि दोस्तों मेरा personal experience है, अगर आप website बनाने में नए है. 

तो आपको hosting related बहुत सारी प्रॉब्लम्स आएंगे तो अगर जिन Companies का service अच्छा नहीं है.

ओर अगर आपको कोई भी problem आए तो आप को सॉल्व करने में बहुत सारी परेशानी होगी।

 तो जब आप hosting ले तब आप उसकी customer service भी देखना है. कि वो आपको कब ओर कितनी देर तक वे service provide करते हैं, 

मेरी माने तो आप उस hosting पर जाये जो 24by7 support देवे. 

web hosting FAQ

हमे web hosting खरीदने की जरुरत क्यों पड़ती है? 

हमे web server दूसरी company से ही क्यों ख़रीदना पड़ता है? हम खुद का web server क्यों नहीं बना सकते हैं ?

दोस्तों जिस server पर हमारी वेबसाइट होती है, वो बहुत ही powerful system में बना रहता है. और वो 24 घंटे चालू रहता है, उसमे 24 hours electricity supply चाहिए होता है. साथ में बहुत बड़ा space चाहिए होता है, उस server को रखने के लिए, और उसको maintain करने का के लिए आपको engineer भी hire करने पड़ते है. एक बहुत बड़ी team चाहिए होती है. 

तो अगर आप छोटा business है, या बहुत बड़ा business भी है यानी अगर सिर्फ अपनी एक site को चलाने के लिए हम इस तरह का server बनाना चाहें तो वो हमें बहुत महंगा पड़ सकता है, 

इसलिए अगर हम दूसरी company से hosting खरीदते हैं. जिनके पास पहले से ही खुद का server setup है. क्योकि वो हमारे लिए बहुत ही सस्ता पड़ेगा। 
यानी आप minimum 500 रूपए महीना देकर आप उसी server में अपनी website को host कर सकते है. 

Free hosting vs paid hosting में क्या अन्तर होता है? 

आज के समय में कुछ भी पूरी तरह से free नही होता है. वैसे market में ऐसी बहुत सी company है. जो आपको free में hosting provide करती है.

लेकिन Free hosting में हर चीज की लिमिटेशन होती है. जैसे की disc space, bandwidth, customer support, और भी बहुत कुछ लेकिन अगर आप paid hosting पर जाते हो तो आपको इतनी limitation नहीं होती है. 

आप आपके बजट अनुसार आपको कंपनी आपको अच्छी hosting प्रदान कराती है. 

1. Free hosting के server में जो website host होती है वहां पर वे free में आपकी website पर ads show कराएगी जबकि paid में आप अपने हिसे के मालिक होते हो.
2. Free hosting में कभी भी आपकी website crashed भी हो सकती है. और आपकी सारी मेहनत पर पानी फिर जाता है. 
3. आपका data या आपके website user का डाटा भी इन site पर secure नहीं रहता है. भविष्य में आपको बहुत सी दिक़त भी आ सकती है. 
4. इनमे आपको website backup, ssl certificate, support कुछ भी नहीं दिया जाता है. 
5. आप को हर दिन problem face करनी पड़ेगी और ज्यादातर समय free hosting पर बनी site का down ही रहती है. 
6. बहुत ख़राब user experience आपको देखने को मिल सकता है. 

लेकिन एक रास्ता है अगर आप free में website या blog बनाना ही चाहते है. बिना wordpress के तो आप google का एक platform है. blogger जिसका आप इस्तेमाल कर सकते है. जो google का ही है और पूरी तरह से secure है. 

इसके लिए आप यह article पढ़ सकते है- google blogger क्या है? और ब्लॉगर पर ब्लॉग कैसे बनाए?

कोनसी बेस्ट web hosting buy करना सही रहेगा?

दोस्तों अब आप अगर hosting के बारे में जान गए हो तो अब समय आता है. Best hosting कोनसी रहेगी अगर आप एक 

तो आप Shared web hosting या managed wordpress web hosting पर जा सकते है. 

और आपको में वही hosting बताऊंगा जिसे पहले मैंने इस्तेमाल कर रखी है. या अभी. 

1. Hostinger india web hosting provider 

दोस्तों hostinger बहुत ही affordable web hosting है. और आज के समय में बहुत ज्यादा popular है. 

ज्यादातर जो beginner bloggers के लिए एक अच्छा चॉइस है. अगर आप बिल्कुल नए blogger है. या आप blogging को स्टार्ट ही करने जा रहे है. और best hosting + cheap hosting के लिए आप खोज रहे है. 

तो आप hostinger के package को खरीद सकते है. और आप अपनी website को 79रूपए/month में purchase कर सकते हो अगर 4 साल के लिए buy कर रहे हो और खरीदने के बाद तुरंत अपनी website को 10 मिनट में ही live करके host कर सकते हो. 

अगर आपको hostinger में 3 plan जानने को मिलेंगे जैसे आपको इमेज में दिख रहा होगा. 

लेकिन आप beginner है तो आप single web hosting प्लान के साथ जा सकते हो. 

लेकिन इसमें आपको domain नहीं मिलेगा आपको domain अलग से खरीदना पढ़ेगा. 

यह प्लान आपको करीब 2000 में पड़ेगा और domain आपको अलग से लेना पड़ेगा जिसका cost आपको 600 – 800 तक में पढ़ सकता है. करीब करीब यह प्लान आपको 2600-2800रूपए तक में पढ़ जायेगा.  

लेकिन अगर आपका बजट 1000रूपए आप ऊपर कर सकते हो तो में आपको recommend करूँगा.

आप premium web hosting plan के साथ जाये. जिसमे आपको सबकुछ unlimited देखने को मिलेगा. 

इस plan में आप 100 website host कर सकते है, unlimited bandwidth, एक free domain मिलती है, और अभी इसमें 70% OFF भी चल रहा है तो अभी आपके पास अच्छा समय है. इस HOSTING PLAN को खरीदने का 

अगर इसमें PROS की बात कर तो 

  1. आप कम पैसो में hosting खरीदकर website बना सकते है. बिना extra cost के आपको free ssl certificate व email account मिलता  है. 
  2. Website loading speed भी आपको fast देखने को मिलती है. 99% uptime मिलता है.
  3.  इसमें आपको cpanel की जगह hpanel मिलता है. जो की cpanel से दिखने में काफी अच्छा होता है. और जिसे control करना बहुत ही आसान होता है. 
  4. आपको 24/7/365 Chat Support दिया जाता है, जब भी आपको कुछ problem आने पर आप इनसे chat कर सकते है औऱ ये आपकी problem को परमानेंटली दूर कर देते है. 
  5. अगर आप wordpress इस्तेमाल करना नहीं जानते है तो यह पर आपको free में website builder मिल जाता है. जिसमे आप template व drag&drop से केसी भी बिज़नेस साइट बना सकते है.
  6. आपको weekly backup मिलता है.
  7. Hostinger hosting पसंद ना आने पर 30 day money-back guarantee मिलती है. आप 30 दिन के अंदर आप hosting refund कर सकते है. 
  8. आप india के online payment apps के भी इस्तेमाल कर सकते हो purchase करने के लिए.

Cons

  1. आपको daily backups देखने नही मिलेगा. लेकिन आपको weekly backup जरूर मिलेगा हर plan में
  2. आपको cheap plan में free domain नहीं मिलेगा. 

अभी hostinger india पर 70% off चल रहा है, अभी जाकर आप जाकर खरीद सकते हो 

Hostgator india hosting

दोस्तों hostgator बहुत old hosting कंपनी है. और एक अच्छी hosting में आती है. 

Hostgator hosting ने भी अपना business india में लेकर आ गयी है. यानी की आप hostgator.in से आप अपना मनपसंद hosting packages खरीद सकते हो. 

hostgator भी एक beginner-friendly hosting साइट है, बहुत से लोग अपना blogging career hostgator में ही स्टार्ट करते है. 

अगर आपके अच्छा खाश ट्रैफिक आ रहा है तो भी hostgator के साथ जा सकते हो. इसमें भी आपको हर तरीके की hosting मिल जाएगी जैसे की shared hosting, vps hosting, cloud hosting, wordpress hosting आपके website अनुसार आप जा सकते हो 

अगर इनके shared hosting के package की बात करे इसमें भी आपके 4 plan देखेने को मिलेंगे. 

आप किसी भी plan के साथ जा सकते है. जितनी आपको requirement है. और अगर नए ब्लॉगर है. तो basic plan में जा सकते हो. 

Pros

  1. आपको बहुत सारी hosting choices देखने को मिलेगी जैसे managed wordpress, vps hosting, cloud hosting और किफायती दाम में shared hosting जिससे आप अपना business start कर सकते हो. 
  2. 99.9% का uptime देखने को मिलता है. 
  3. इसमें आपको traditional cpanel देखने को मिलता है. जो बहुत ही easy to use है. 
  4. आपको इसमें free email account. भी मिल जाते है. 
  5. अगर आप हिंदी में site बना रहे है या सिर्फ india को ही target कर रहे है तो आप india server location ले सकते है, जिससे india में आपकी साइट और जल्दी load हो पायेगी. 

Cons

  1. Hostgator ssl certificate provide नहीं कराता है.
  2. दूसरे hosting provider के मुकाबले हल्की सी आपको hostgator महेंगी पड़ सकती है. 
  3. आपको 99रूपए/महीना वाला hosting pack coupon तभी मिलता है अगर आप 5 साल के लिए खरीदते हो. लेकिन अगर एक साल के लिए purchase करते हो तब आपको 159rs/month में मिल जायेगा. 

दोस्तों में आशा करता हु की आपको यह article पसंद आया होगा “web hosting meaning in hindi” इसमें जो भी आपके प्रश्न है वो सब क्लियर हो गये होंगे. 

अगर अभी भी जानना चाहते हो की कोनसी best hosting आपके लिए best रहेगी या अगर कुछ भी confusion है तो आप comment में पूछ सकते है या फिर आप facebook group में भी जुड़कर भी अपना सवाल पूछ सकते हो जिससे आपकी प्रॉब्लम में उसी समय solve कर पाउ. 

Share on:

अपने ब्लॉग से ऑनलाइन पैसा कमाना सीखे।

"आज ही सब्सक्राइब करे और ऑनलाइन पैसे कमाने संबंधित नवीनतम पोस्ट पाए"

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम धीरज है, और इस ब्लॉग पर में blogging, technology, internet से जुड़े सम्बंदित post इस ब्लॉग पर अपडेट करता रहता हु. में आशा करता हु की मेरे द्वारा लिखी गई post आपको पसंद आएगी। अगर आपको ब्लॉग सम्बंदित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप बेझिझक पूछ सकते है. मुझे लोगो की हेल्प करना बहुत ही अच्छा लगता है, प्रॉब्लम होने पर हमसे contact अवश्य करे.

1 thought on “Web Hosting Kya Hai | Hosting खरीदने से पहले इन 7 बातो का अवश्य ध्यान रखे”

Leave a comment