blogger में custom domain कैसे add करे godaddy से (10 आसान steps)

क्या आपने blogger पर नया ब्लॉग बना लिया है. तो अब बारी आती है. अपने blogger में custom domain add करने की

और अगर अभी तक आपने ब्लॉग नहीं बनाया तो में आपको रिकमेंड करता हु की सबसे पहले अपना ब्लॉग बनाये

इसके लिए आप मेरी दी हुई गाइड पढ़ सकते है. 10 मिनट में खुद का blog कैसे बनाये पढ़ सकते है.

जब आप ब्लॉग बनाते है ब्लॉगर में तो आपको फ्री में ब्लॉग बन जाता है. लेकिन आपको उसके साथ subdomain मिलता है.

यानी की आपका पर्सनल डोमेन न होकर google blogger आपको sub-domain देता है

तो यह sub-domain क्या होता है?

दोस्तों sub-domain जो है वो main domain का ही एक पार्ट होता है. आप एक main domain से ही बहुत से sub-domain बना सकते हो. वैसे subdomain अलग अलग पार्ट को दर्शाने के काम आते है.

जैसे अगर मेरी वेबसाइट का मैन डोमेन है- clickhindi.com तो अगर में चाहू तो भविस्य में अलग अलग sub-domain जोड़ सकता हु. जैसे contact.clickhindi.com, blog.clickhindi.com etc.

तो इसी तरह blogger भी आपको free में उनके main domain का subdomain create करने को देते है- जैसे clickhindi.blogspot.com etc.

तो इस पोस्ट में हम बात करेंगे की कैसे आप कुछ सिंपल स्टेप्स में आसानी से अपना sub-domain को बदल सकते हो अपने खुद के ख़रीदे हुए “main domain” में

blogger me custom domain Kaise add kare

जिस तरह blogger में ब्लॉग बनाना आसान है. उतना ही आसान blogger में custom domain जोड़ना। हमें कुछ स्टेप्स है. उसे फॉलो करना पड़ता है.

और इन steps को फॉलो करके कुछ ही मिनटो में अपना खुद का domain name add कर पाएंगे।

डोमेन नाम जोड़ने से पहले जरुरी है. डोमेन नाम को खरीदना और डोमेन नाम खरीदने के लिए आप godaddy से अपना .com,.in,.net,.org आपके मनपसंद का कोई भी TLD डोमेन खरीद सकते हो.

और domain name की प्राइस आपको लगभग 800 रूपए में पड़ जाएगी। और यह डोमेन आपको पुरे साल के लिए मिल जाती है.

में कहना चाहूंगा की आप .com domain ही ख़रीदे क्योकि यह डोमेन आसानी से हर देश में रैंक हो जाती है. जबकि .in domain खासकर इंडिया के लिए अच्छी है.

तो यह डोमेन नाम खरीदना सब आपके ऊपर निर्भर करता है. तो अब में फिर से अपने टॉपिक पर आ जाता हु. की आपने डोमेन खरीद रखा है.

और उसे आप apkadomain.blogspot.com से बदलकर apkadomain.com में जोड़ना चाहते हो.

अगर आप इस पुरे टॉपिक पर नए हो तो इसे जरूर पढे- blog क्या है? ब्लॉग्गिंग क्या है और कैसे स्टार्ट करे

कस्टम डोमेन नाम जोड़ने के लिए यह steps को follow करे-

Step1- सबसे पहले blogger.com पर जाये।

आपने जिस Gmail account से blog बनाया है. तो उसी gmail से blogger.com पर जाए. वहाँ पर login करे.

Steps2- अब blogger dashboard में आप “setting” के ऑप्शन पर जाए.

blogger me custom domain kaise add kare

Step3- अब सेटिंग में आपको निचे आना है. जहा पर “publishing” दिया गया है. वहा पर आपको “Custom domain” पर क्लिक करे.

Step4- अब अपने जो “Custom domain” खरीदी है. वो “custom domain का नाम” ऐड करे.

जैसे मेरा कस्टम डोमेन है- “www.iplmatchnews.com” उसके बाद “save” पर क्लिक करे.

blogger me custom domain kaise add kare

अब आपके सामने एक लाल कलर में “error message” आएगा।

जिसमे लिखा होगा की blogger आपके domain name को verify नहीं कर पा रहा है.

blogger me custom domain kaise add kare

तो उसके लिए आपको अपने domain name के “DNS verify” करना होगा जहा से अपने यह डोमेन ख़रीदा है.

Step5- अपने “Domain provider” वेबसाइट पर जाकर sign in करे.

जैसे की मैंने जिस domain provider ( in.godaddy.com ) से डोमेन नाम ख़रीदा। उसी तरह अपने भी जिससे ख़रीदा उनकी वेबसाइट पर जाकर sign in कर ले.

Step6- अब godaddy में Account के निचे ”my product” के page पर जाये.

यहाँ पर आपने जितने भी प्रोडक्ट ख़रीदे होंगे godaddy से वो सब दिख जायेगा।

Step7– अब domain name के निचे “DNS” का ऑप्शन पर क्लिक करे.

blogger me custom domain Kaise add kare

Step8- आप आपको जो “Step 4” में एरर टेक्स्ट आया था. जिसमे आपको “CNAME” में “Name” और “designation” बदलने के लिए कहा था.

blogger me custom domain kaise add kare
CNAME को बदले अपने DNS सेटिंग में से

तो अब आपको DNS Manager में CNAME बदलना है. आपको जो ब्लॉगर में दिया था. वो आपको “copy paste” करना है.

typenamevalue/designation
1.CNAMEWWWghs.google.com
2.CNAMEजो आपको blogger में दिया है जो आपको blogger में दिया है.
blogger me custom domain kaise add kare

CNAME बदलने के बाद आप सेव करे.”

step9- अब फिर से आप “blogger.com” पर आ जाये। और लाल टेक्स्ट में मैसेज को save कर दे.

step10- अब publishing में निचे redirection का ऑप्शन दिखाई दे रहा हो उसे activate कर दे.

blogger me custom domain kaise add kare

अब आपकी साइट पर custom domain add हो गया है. अब आप “view blog” पर जाए. लेकिन आपकी साइट ओपन नहीं हो रही होगी।

तो इसके लिए आप “5-10 मिनट का इंतजार ” करे और फिर से रिफ्रेश करे. आपकी साइट ओपन हो जाएगी नए डोमेन के साथ😉

blogger में Custom Domain add करने के फायदे-

अगर आप अभी तक blogger का subdomain इस्तेमाल कर रहे बहुत लंबे समय से तो अब बारी आती है. अपना खुद का “domain name” खरीदकर इस्तेमाल करने का

क्योकि इसके आपको अनेक फायदे मिल सकते है.

जैसे की

  1. traffic- आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आने लगता है. क्योकि एक “custom domain name” पर लोग ज्यादा क्लिक करना पसंद करते है. क्योकि एक custom domain नाम का मतलब की आपके लिए बिज़नेस है. और लोगो लगता है की यहाँ पर सही इनफार्मेशन मिलती है.
  2. adsense approve- आपके ब्लॉग पर adsense का approval बहुत जल्दी मिल जाता है. एक कस्टम डोमेन नाम पर. जिससे आप जल्दी ही अपने “ब्लॉग से पैसा कमाना स्टार्ट कर देते है.”
  3. डोमेन अथॉरिटी- आपकी ब्लॉग पर domain होने से आपकी डोमेन नाम की DA यानी की “Domain authority बढ़ती है“. और blogging में long term के लिए अच्छा है.
  4. brand- आप ब्लॉग पर अगर कस्टम डोमेन नाम इस्तेमाल करते है तो आप की साइट एक brand के रूप में पहचानी जाती है .
  5. ranking- आपकी “साइट की रैंकिंग बढ़ती है” जैसे की अगर clickhindi.blogspot.com व clickhindi.com में से कस्टम डोमेन ब्लॉग बहुत जल्दी रैंक होते है.
  6. subdomain- आप कस्टम डोमेन के नाम से खुद के बहुत सारे sub-domain भी बना सके है. जैसे की blog.clickhindi.com, ask.clickhindi.com, contact.clickhindi.com, etc.

FAQ

क्या डोमेन नाम खरीदने से ब्लॉग का ट्रैफिक बढ़ सकता है?

जी हां, अगर आप खुद का कस्टम डोमेन खरीदते हो तो आपके ब्लॉग का ट्रैफिक बढेगा। क्योकि गूगल में कस्टम डोमेन जल्दी रैंक होते है. जबकि sub domain को रैंक होने में समय लगता है.

क्या ब्लॉगर ब्लॉग में कस्टम डोमेन जोड़ना जरुरी है?

जी नहीं , यह सब आपके ऊपर निर्भर करता है की आप अपने ब्लॉग पर blogspot का subdomain इस्तेमाल करना चाहते हो या खुद का पर्सनल डोमेन नाम खरीदकर लगाना चाहते हो.

blogger पर कस्टम डोमेन ऐड करने के बाद होस्टिंग भी लेनी पड़ती है?

ऐसा जरुरी नहीं है की अगर आप ब्लॉगर में कस्टम डोमेन इस्तेमाल करते हो तो होस्टिंग भी ख़रीदे। क्योकि गूगल आपको फ्री में होस्टिंग प्रोवाइड करता है. लेकिन कस्टम डोमेन नहीं।

और हां जब आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आने लग जाये तब आप होस्टिंग भी खरीद सकते है.

अंतिम राय डोमेन नाम ऐड करने के लिए

तो दोस्तों इन 10 आसान स्टेप्स लो फॉलो करके आसानी से blogger custom domain add कर पायंगे और जब भी अपना ब्लॉग स्टार्ट करे तो आप खुद का एक कस्टम डोमेन खरीदले।

आप होस्टिंग न ख़रीदे लेकिन एक कस्टम डोमेन नाम से आपके ब्लॉग को अलग पहचान मिलती है.

अगर आपको कोई प्रॉब्लम आ रही है custom domain add करने में तो हमें कमेंट में जरूर बताये।

Leave a Comment

%d bloggers like this: